Guru Shakti

तारा महाविद्या साधना के अनुभव और खतरा


तारा महाविद्या साधना के अनुभव 
Experiences While Doing Tara Sadhna


क्या क्या अनुभव होते हैं कैसे मालूम पड़ेगा  कि साधना सिद्ध हुई |  दूसरे या तीसरे दिन आवाजे आने लगेंगी जैसे कोई स्त्री बोल रही हो फुसफुसाहट कर रही हो |
ऐसा लगेगा कि कमरे में कोई  और है| अदृश्य रूप में होती ही है तारा मगर आप उसको देख नहीं पाएंगे | वो लगेगा कि कमरे में आई है और कमरे मे खड़ी है
 या उसकी आवाज़ आ रही है या साँस धुनि  सुनाई दे रही है | 

दूसरे या तीसरे दिन ऐसा लग जाएगा ऐसा हो तब भी आप मंत्र जप  करते रहें | आसन से उठे नहीं और  डरें नहीं | 
चौथे और पांचवे दिन ऐसा लगेगा  कि कमरे में कोई चल रहा है | बराबर उसके पांव की आवाज आ रही है |
उस समय भी आपको व्याकुल या चिंतित होने  की जरूरत नहीं है | ऐसा लगेगा कि कोई सुगंध आ रही है | कोई पास आ के बैठा है |
ऐसा लगेगा कि उसका घुटना आपके घुटने से स्पर्श हुआ है |  कोई पास आ के बैठा है | 

ग्याहरवें या बारहवें दिन ऐसा लगेगा कि अंधेरे में बिम्ब जैसी स्त्री दिखाई देगी और  छाया दिखाई देगी | 
अगले दिन लगभग प्रत्यक्ष दिखाई देनी लगेगी नारी रूप में |
षोडश वर्षीय बालिका के रूप में | लाल वस्त्र धारण किए हुए|  गहने पहने हुए | आपके पास आ कर के बैठी हुई है |

ऐसा ही तारा का रूप है | त्रिपुरा सुंदरी रूप है त्रिपुरा सुंदरी का मतलब है |  पूरे संसार में ऐसा किसी का रूप या यौवन नहीं है |
वो बैठी है तो कोई बात नहीं | मंत्र जप आपका चलता रहना चाहिए | बीच में माला छोड़ेंगे नहीं | 
पूरी 51 माला करेंगे |

और 15 वे दिन वो प्रत्यक्ष होगी | और वो सवाल करेगी कि तुमने मेरी साधना की है | मुझे बुलाया है बताइए क्या कार्य है  |
उस समय आप  कोई जवाब नहीं दें | आप पहले माला पूरी करिए | 
खतरा आपको बाहरवें से पन्द्रहवें दिन  के बीच में है |

जब माला पूरी हो जाए तो आप बोलें कि  भगवती तारा आप मेरे जीवन में निरन्तर  रहें |
निरन्तर मुझे स्वर्ण धन और धान्य प्रदान करते रहें |  और पूरे जीवन में पूर्णता प्रदान करें |
इस मंत्र के द्वारा जब भी मैं आपको याद करूँ तब आप मेरा कार्य अवश्य करें |
और वो तथास्तु बोल कर अदृश्य हो जाएगी | 
जब वो बोलें और आप सुनें तो आप समझ लीजिये  कि आपकी साधना सफल हो गयी  है |

Click Here For The Detailed Version of The Tara Sadhna

Some Useful Links
Shri Ugar Tara Mantra Aghor Sadhna
Tara Mahavidya Mantra & Dhyan
Chhinnamasta Mantra
तारा महाविद्या स्थापन और शकिपात
महाविद्या तारा साधना कैसे  करें - मंत्र और विधि


Print Friendly and PDF