Vancha Kalplata Tantra


वांछा कल्पलता तंत्र 

 

वांछा' शब्द का तात्पर्य है, मनुष्य की इच्छा अभिलाषा, कामना और 'कल्पलता' शब्द का मतलब हैं. कल्प वृक्ष जैसे महत्वपूर्ण दैवी वृक्ष से। इसका तात्पर्य यह है कि यह कल्पवृक्ष के समान है और साधना करने वाले की सभी प्रकार की कामनाओं को पूर्ण करने की सामर्थ्य एवं शक्ति रखता है। इस मंत्र की 1 माला नित्य पीली हकीक माला से वांछा कल्पलता गुटिका के सामने उच्चारण करने से साधक के सभी मनोरथ पूर्ण होते ही हैं | 

 

तांत्रिक ग्रंथों में इसके बारे में बताया गया है -

वांछा कल्पलतायास्तु न होमो न च तर्पणम्।

स्मरणदेव सिद्धि: स्यात यदिच्छति हि तद्भवेत् ।।

एकावृत्या वशे लक्ष्मी: पंचावृत्या वश जगत्।

दशावृत्या तथा विष्णु-रूद्र-शक्तिर्भवेदिह।।

सार्वभौमः शतावृत्या भवत्येव न संशय ।।

 

अर्थात् यह वांछा कल्पलता साधना विश्व की दुर्लभ साधना है, इसके प्रयोग में होम या तर्पण करने की जरूरत नहीं होती, केवल इस मंत्र के जपने से ही साधक की प्रत्येक इच्छा पूरी हो जाती है, इस मंत्र की एक आवृत्ति से लक्ष्मी प्राप्ति  होती है, पांच आवृत्तियों से भगवान विष्णु और रूद्र की शक्ति प्राप्त होती है, इसी प्रकार यदि कोई साधक इसकी सौ आवृत्तियां कर ले तो वह संसार में सम्माननीय होता है, इसमें कोई दो राय नहीं।

 

How To Use Vancha Kalplata Tantra

  1. तंत्र सार ग्रंथ में इसे साधना के बारे में कुछ महत्वपूर्ण तथ्य स्पष्ट किये हैं, उसके अनुसार -
  2. यदि इस मंत्र की केवल एकमाला मंत्र जप कर अर्थात् 108 बार उच्चारण कर किसी से भी मिलने के लिए जावे और कोई भी कार्य कहे तो सामने वाला तुरन्त कार्य कर देता है।
  3.  यदि शक्कर की बनी किसी चीज (पतासा आदि) पर नाम ले कर मात्र ग्यारह माला जप कर वह चीज उसे खिला दे तो निश्चय ही वह अनुकूल हो जाता है।
  4. यदि इस मंत्र को गुलाब के पुष्पों के सामने पांच माला मंत्र जप कर, वे गुलाब के पुष्प दुकान या फैक्टरी में बिखेर दे तो दुकान पर किया गया तांत्रिक प्रयोग समाप्त हो जाता है और व्यापार में आश्चर्यजनक वृद्धि होने लगती है।
  5. यदि तांबे के गिलास में पानी भर कर इस मंत्र का 21 बार उच्चारण कर वह पानी रोगी को पिला दिया जाय तो उसका रोग ठीक होने लगता है।
  6. यदि काली मिर्च के 101 दानों पर नाम ले कर इस मंत्र की 15 माला मंत्र जप कर वे काली मिर्च के दाने शत्रु के घर में किसी प्रकार से फैंक दिये जाय तो लक्ष्मी का नाश हो जाता है तथा घर में कलह लड़ाई बढ़ जाती है।
  7. यदि इलायची के पांच दानों पर इस मंत्र की एक माला मंत्र जप कर इलायची के दाने रजस्वला समय में स्त्री को तीन दिन तक खिलाये जाय तो निश्चय ही उसके गर्भधारण होता है।
  8. यदि वांछा कल्पलता यंत्र के सामने तेल का दीपक लगाकर नित्य तीन माला मंत्र 11 दिन तक करें तो सभी प्रकार का राज्य भय समाप्त हो जाता है और स्थितियां अनुकूल होने लगती है।

वांछा' कल्पलता ध्यान 

श्रीविद्या ब्रह्म-विद्या च व्याप्तं ये सचराचरं।

निर्द्धन्द्धा नित्य-सन्तुष्टा निर्मोहा निरूपाधिका ॥

कामेश्वरी मनोऽभीष्ट-कामेश्वर-स्वरूपिणी।

दीपक नमस्तेऽनन्त-रूपायै प्रसीद सुप्रसीद मे॥

Vancha Kalplata Mantra

वांछा' कल्पलता मंत्र

श्रीं श्रीं श्रीं, ह्रीं ह्रीं ह्रीं , क्लीं क्लीं क्लीं, ऐं ऐं ऐं, सौः सौः सौः,

ॐ ॐ ॐ ह्रीं ह्रीं ह्रीं, श्रीं श्रीं श्रीं, कं कं कं,

एं एं एं ईं ईं ईं , लं लं लं, ह्रीं ह्रीं ह्रीं, हं हं हं, सं सं सं, कं कं कं, हं हं हं.

लं लं लं, ह्रीं ह्रीं ह्रीं, सं सं सं, कं कं कं,

लं लं लं, ह्रीं ह्रीं ह्रीं. सौ: सो: सौ.:, ऐं ऐं ऐं, क्लीं क्लीं क्लीं, ह्रीं ह्रीं ह्री,

श्रीं श्रीं श्रीं प्रसीद प्रसीद, मम मनो ईप्सितं कुरु कुरु स्वाहा | 

shreem shreem shreem, hreem hreem hreem , kleem kleem kleem, aing aing aing, sauh sauh sauh,

om om om hreem hreem hreem, shreem shreem shreemn, kam kam kam,

aim aim aim eem eem eem , lam lam lam, hreem hreem hreem, ham ham ham, sam sam sam, kam kam kam, ham ham ham.

lam lam lam, hreem hreem hreem, sam sam sam, kam kam kam,

lam lam lam, hreem hreem hreem. sau: sau: sau.:, aing aing aing, kleem kleem kleem, hreem hreem hreem,

shreem shreem shreem praseed praseed, mam mano eepsitam kuru kuru svaaha |
 


 Contact WhatsApp

Published on Jan 6th, 2021


Do NOT follow this link or you will be banned from the site!